Placeholder canvas

Cotton Mandi Rate Today : नरमा कपास भाव, कपास में आएगी तेजी, जानिए क्या कहते है आंकड़े

Mukesh Gusaiana
3 Min Read

Cotton Mandi Rate Today : भारतीय किसानों के लिए गुलाबी सुंडी रोग एक महत्वपूर्ण मुद्दा बन चुका है, और इसके कारण कपास के उत्पादन में कमी आई है। इस रोग के कारण कई राज्यों में कपास की फसल पर प्रभाव पड़ा है, जिसके परिणामस्वरूप गुलाबी सुंडी के कारण किसानों को नुकसान हुआ है।

वर्तमान में, देश में कपास के उत्पादन की आम उम्र देखी जा रही है, और यह रोग कपास की फसल को कमजोर कर रहा है। गुलाबी सुंडी रोग के कारण, कपास के उत्पादन में कमी हो रही है, और इसके परिणामस्वरूप कपास के भाव में तेजी आ सकती है।

कपास के भाव: वर्तमान मंडियों में क्या भाव है

वर्तमान में देश के प्रमुख मंडियों में कपास के भाव की जानकारी निम्नलिखित है:

मंडी कपास का औसत भाव (प्रति क्विंटल)
बरवाला 8105 रुपए
भुना 7600 रुपए
ऐलनाबाद 7600 रुपए
सिरसा 7615 रुपए
आदमपुर 7226 रुपए

और कई मंडियों में कपास के भाव की जानकारी

इसके अलावा, अन्य मंडियों में कपास के औसत भाव निम्नलिखित है:

  • अलवर मंडी (राजस्थान): 6000 रुपए से ऊपर
  • बिलाड़ा मंडी (राजस्थान): 7500 रुपए
  • केकड़ी मंडी: 7000 रुपए से 7800 रुपए
  • फतेहाबाद मंडी: 7000 रुपए से 7150 रुपए
  • महम मंडी: 7050 रुपए से 7150 रुपए
  • हिसार मंडी: 7110 रुपए
  • अबोहर मंडी: 7385 रुपए से 7600 रुपए
  • श्री विजयनगर मंडी: 7000 रुपए से 7289 रुपए
  • हनुमानगढ़ मंडी: 6500 रुपए से 7500 रुपए
  • अनूपगढ़ मंडी: 6970 रुपए से 7215 रुपए
  • खैरथल मंडी: 7150 रुपए से 7250 रुपए
  • रावतसर मंडी: 7000 रुपए से 7370 रुपए
  • गोलूवाला मंडी (राजस्थान): 7000 रुपए से 7200 रुपए
Read More
Mandi Bhav News: सरसों धान की कीमतों में उछाल, हरियाणा राजस्थान की मंडियों की ताजा अपडेट

यहां दिए गए भाव अधिकांश मंडियों में कपास के बेचे जा रहे औसत भाव को प्रतिस्पर्धी और उच्च बताते हैं, जो किसानों के लिए सकारात्मक संकेत हो सकता है।

गुलाबी सुंडी रोग के कारण कपास के उत्पादन में कमी आई है, लेकिन इसके बावजूद किसानों के लिए कपास के भाव में तेजी की संकेत मिल रही है। यह बाजार में खरीदारों और विपणी किसानों के लिए एक अच्छा समचार हो सकता है, और इसके साथ ही किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार हो सकता है।

Share This Article
Follow:
मुकेश गुसाईंना (Mukesh Gusaiana) झलको हरियाणा में सीनियर एडिटर और इसके सस्थापक हैं. डिजिटल मीडिया में 9 साल से काम कर रहे हैं. इससे पहले किसान केसरी पर अपनी सेवाएं दे रहे थे, इन्होने अपने करियर की शुरूआत चौपाल टीवी में कंटेंट राइटिंग से की और पिछले कई सालों से लगातार ऊँचाइयों को छूते जा रहे हैं ।
Leave a comment